भारत भर में श्वेताम्बर मूर्तिपूजक गच्छ – समुदाय साधु-साध्वी संख्या 

१. पू. आचार्य रामचंद्र सूरी – साधु:४१२, साध्वी: १०६५ = १४७७

 

२. आचार्य भुवनभानसूरी – साधु:५०२, साध्वी: ५१० = १०१२

 

३. पू. आचार्य कलापूर्ण सूरी – साधु:९६, साध्वी: ५७० = ६६६

 

४. आचार्य सागरनंद सूरी – साधु:१४७, साध्वी: ६९७ = ८४४

 

५. पू. आचार्य नेमी सूरी – साधु:१३०, साध्वी: ४२१ = ५५१

 

६. प. पू. आचार्य बुद्धिसागर सूरी – साधु:५०, साध्वी: १२५ = १७५

 

७. पू. धर्म विजय (देह्लावाला) – साधु:३७, साध्वी: २७५ = ३२९

 

८. आचार्य भक्ति सूरी – साधु:३७, साध्वी: २६६ = ३०३

 

९. आचार्य नीति सूरी – साधु:३३, साध्वी: ४०५ = ४३८

 

१०. आचार्य सिद्धि सूरी – साधु:५२, साध्वी: ४४६ =४९८

 

११. आचार्य लब्धि सूरी – साधु:५५, साध्वी: २४६ = ३०१

 

१२. आचार्य शांतिचंद्र सूरी – साधु:९०, साध्वी: ३७० = ४६०

 

१३. पू. मोहजित वि.(पंडित महाराज) – साधु:४०, साध्वी: ३१ = ७१

 

१४. आचार्य केसर सूरी – साधु:२०, साध्वी: २०५ = २२५

 

१५. आचार्य वल्लभ सूरी – साधु:६५ साध्वी: २५० = ३१५

 

१६. आचार्य अमृत सूरी(हालार)- साधु:३०, साध्वी: १०० = १३०

 

१७. आचार्य धर्म सूरी – साधु:३५, साध्वी: २०० = २३५

 

१८. आचार्य हिमाचल सूरी – साधु:१०, साध्वी: ६० = ७०

 

१९. आचार्य शान्ति विमल सूरी – साधु:०९, साध्वी: ३६ = ४५

 

२०. पूज्य मोहनलालजी महाराज – साधु:१५, साध्वी: २० = ३५

 

२१. आचार्य राजेंद्र सूरी (३ थोय) – साधु:६०, साध्वी: २५० = ३१०

 

२२. आचार्य आर्यरक्षित सूरी (अचल गच्छ) – साधु:४३, साध्वी: २६४ = ३०७

 

२३. आचार्य जिनदत सूरी (खरतर गच्छ) – साधु:३७, साध्वी: २४१ = ३७८

 

२४. आचार्य पार्श्वचन्द्र सूरी (पायचंद गच्छ) – साधु:०८, साध्वी: ५८ = ६५

(जनवरी २०१५ के अनुसार यह जानकारी हमें प्राप्त हुई है |)


 

*** कौनसे वर्ष में कितनी दीक्षा हुई ***

 

Jain Guru Bhagwant - Information of Gachadhipati , Aacharya , Pannyas , Ganivarya , Upadhyay , Muni , Sadhviji Maharaj,etc. Details about Maharaj(Marasaheb). Statistics about Diksha every year.

 


 

नोट : अगर हमने किसी भी गच्छाधिपति,आचार्य,मुनि,पंन्यास,साध्वीजी की गलत जानकारी दी है या कुछ गलत लिखा है तो हम क्षमा चाहते है और आपसे अनुरोध करते है की इस भूल को सुधारने के लिए हमें जरुर संपर्क करे| हमारे लिए यह जानकारी बहुत ही अमूल्य रहेगी|

धन्यवाद|