Shree Sambhavnath Jain Temple, WadPalni (Chennai)

Shree Sambhavnath Jain Temple, WadPalni (Chennai)

 

 

श्री संभवनाथ जैन मंदिर, वडपलनी

 

चेन्नई नगर का वडपलनी क्षेत्र पूर्व में फ़िल्मी उद्योग के लिए महशूर था, वर्तमान में भी यहाँ विजया वाहिनी, विजया स्टूडियो, फिल्म सिटी आदि फ़िल्मी उद्योग से जुड़े संस्थान व्यापक रूप से क्रियाशील है|

यहाँ तीर्थंकर परमात्मा संभवनाथ भगवान का जिनालय स्थित है| श्वेत पाषण से निर्मित मुलनायक परमात्मा पद्मासनस्थ विराजमान है| परमात्मा की ४१ इंच देहप्रमाण युक्त प्रतिमा मानो प्रसन्नता का कोई शाश्वत झरना है| ये परम विभूति परमात्मा जिनकी भक्ति मुक्तिदायिनी है| प्रभु के अद्वितीय मुखचन्द्र को शोभा भक्त को भक्ति रस रंगीत कर देती है| परम परमेश्वर का यह जिनबिंब ह्रदय में अपार हर्ष का संचार करता है और तो और इस प्रतिमा को एक पल भी निहारने से आत्म प्रदेश में प्रीटी का पावन झरना छलक उठाता है|

ये परमात्मा मन्त्र मुग्ध कर देने वाली नक्काशी व अष्ट महाप्रातिपार्य युक्त परिकर से आवृत है| परिकर में चंवर ढलाते देव-देवियों, पीठिका पर अशोक वृक्ष, फुल पत्तों की मनमोहक उकेरनी अत्यंत कलात्मक है|

मुलनायक संभवनाथ परमात्मा के दायें-बाएं श्वेतवर्णीय, २१ इंच काययुक्त श्री शांतिनाथ भगवान तथा श्री पार्श्वनाथ प्रभु की मनोहर प्रतिमाएं पद्मासनस्थ शोभायमान है| शिल्पशास्त्रनुरूप निर्मित ४५ फीट ऊँचे, इस विशाल, शिखरबद्ध जिनालय के रंगमंडप की शोभा अनुपम है| धार्मिक साधना , ध्यान,जप-तप एवं एकग्रता के अनुकूल रंगमंडप में शांति का सुवास व्याप्त चहुँ और है| रंगमंडप के गोखलों में श्री नाकोड़ा भैरव देव, श्री अम्बिका देवी , श्री पद्मावती देवी तथा श्री चकेश्वरी देवी की १९ इंच कायायुक्त श्वेतवर्णीय प्रतिमाएं प्रतिष्टित है|

देव-देवियों के अतिरिक्त दादा गुरुदेव श्री जिनकुशलसूरीजी एवं योगिराज श्री शान्तिसूरीश्वरजी गुरुदेव की १९ इंच कायायुक्त श्वेत वर्णीय प्रतिमाएं विराजमान है|(पूर्व में भी यहाँ एक छोटा-सा श्री संभवनाथ भगवान का जिनमंदिर था)

इस भव्य जिनालय की प्रतिष्ठा वि.सं. २०६२ , मिगसर वदी ३, दिनांक १८.११.२००५, शुक्रवार के शुभ दिवस , मगल मुहूर्त में प.पू. उपाध्याय प्रवर श्री मणिप्रभसागरजी म.सा. के सुहस्ते हर्षोउमंग से संपन्न हुई|