श्री वही पार्श्वनाथ

श्री वही पार्श्वनाथ – वहिगाँव

 

राजस्थान के मंदोसर जिले में वही गाँव में वेलु में से निर्मित श्याम वर्णीय सात फनों से युक्त श्री वही पार्श्वनाथ बिराजमान है| प्रभुजी ३३ इंच ऊँचे व २३ इंच चौड़े है| प्रभु की पलाठी के दोनों और व्याघ्र की आकृति है| उस बाघ की पूंछ प्रभुजी की पाठी से होकर फनों पर निकलती है| प्राय: इस जिनालय का निर्माण संप्रतिराजा ने कराया था| प्रतिमाजी अत्यंत ही आकर्षक व मनमोहक है|

वही गाँव के नाम से प्रभुजी का नाम वही पार्श्वनाथ पड़ा है|