श्री कच्छुलिका पार्श्वनाथ

श्री कच्छुलिका पार्श्वनाथ – काछोली तीर्थ

 

मंदिर में उपलब्ध शिलालेखों से प्रतित होता है की इसका प्राचीन नाम कच्छुलिका था| मुलनायक भगवान के परिवार की गादी पर सं. १३४३ का लेख उत्कीर्ण है| यह तीर्थ उससे भी पूर्व का माना जाता है|

काछोलीवाल गच्छ का उत्पत्ति स्थान यहीं है| प्रतीत होता है किसी समय यह नगर जाहोजलालीपूर्ण था व सुसंपन्न श्रावकों के सहस्त्रों कुटुंबभो से आबाद था| ये प्रभुजी चिंतामणी पार्श्वनाथ के नाम से भी प्रख्यात है|